मदारिया सामूहिक विवाह में 13 जोड़े परिणय सूत्र में बंधे……

देवगढ़ , दि. 10 मई 2014 / नगर के करणी माता मंदिर परिसर में श्री ब्राह्मण स्वर्णकार समाज का द्वितीय सामूहिक विवाह शनिवार को हुआ। इसमें समाज के 13 जोड़े परिणय सूत्र में बंधे।

शादी से पहले दूल्हा-दुल्हनों की बिंदोली निकाली गई। सुबह विनायक स्थापना के बाद वर-वधुओं की सामूहिक बिंदोली निकाली गई । दूल्हे घोड़े पर सवार हुए। जबकि 13 दुल्हनों को खुली जीप में बैठाकर बिंदोली निकाली। बिंदोली भवानी भागीरथ वाटिका से रवाना हुई, मारु दरवाजा, माणक चौक, कोतवाली चबूतरा, गणेश घाटी, सदर बाजार, सूरज दरवाजा, खादी ग्रामोद्योग व अस्पताल रोड होते हुए विवाह स्थल करणी माता मंदिर परिसर पहुंची। जहां सभी दूल्हों ने अलग-अलग तोरण लगाने की रस्म अदा की। इसके बाद वर-वधुओं के परिजनों द्वारा समधी मिलनी की रस्म निभाई। विवाह मंडप में वर-वधुओं का प्रवेश कराने के बाद पंडितों ने मंत्रोच्चार के साथ विवाह करवाई। 13 जोड़ों ने अग्नि के समक्ष फेरे लिए। शाम को आशीर्वाद समारोह हुआ। समारोह श्री ब्राह्मण स्वर्णकार समाज सामूहिक विवाह समिति व श्री ब्राह्मण स्वर्णकार नवयुवक मंडल मदारिया के संयुक्त तत्वावधान में हुआ। विवाह समारोह में राजसमंद, जालोर, पाली, उदयपुर व बाड़मेर सहित दूर दराज के 13 जोड़े शामिल हुए। इस दौरान विवाह समिति व सामूहिक विवाह समारोह में सहयोग देने वालों का सम्मान किया। विवाह समिति के अध्यक्ष बाबूलाल, मंत्री जगदीश चंद्र साकरिया, कोषाध्यक्ष राधेश्याम मणिहार, पुखराज चव्हाण, जगदीश चंद्र, कन्हैयालाल, नंद किशोर, राजेंद्र साकरिया, खेमराज, महेश, गणपत लाल सहित समाज के कई लोग उपस्थित थे। विवाह समिति की ओर से कन्याओं को कन्यादान में घरेलू सामग्री कन्यादान में दी।

-दैनिक भाष्कर 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *