नागौर ब्राह्मण स्वर्णकार महिला मण्डल का गणगौर उत्सव कार्यक्रम :-

आज दिनांक ०३.०४.२०११ को बाठड़ियों का चौक स्थित ब्राह्यण स्वर्णकार पंचायत भवन में श्री ब्राह्यण स्वर्णकार महिला मण्डल नागौर द्वारा गणगौर उत्सव के उपलक्ष्य पर २१ जोडें गणगौर को गिनाणी तालाब नागौर पानी पिलाने हेतु ले जाया गया। जिसमे महिला मण्डल की पदाधिकारी, सदस्यो आदि ने काफी सक्रियता से हिस्सेदारी निभाई तथा महिलाओ ने गणगौर के गीत गाये।

गणगौर की सवारी के जुलूसमे समाज की लगभग १५० महिलाए  सम्मिलत हुई। जिसमे कार्यकारणी के सदस्योका भरपुर सहयोग रहा।

गणगौर की सवारी के जुलूसका रामप्रकाशजी कट्‌टा, पुखराजजी भजूड , लक्षीमलजी मण्डोरा, धन्नराजजी कट्‌टा, ताराचन्दजी कट्‌टा एवं सुरे्शजी भजूड  के यहॉं मनुहार कर महिलाओं तथा गणगौर के २१ जोडों का स्वागत किया गया।

तत्पश्वात्‌ गणगौर का जुलूस गिनाणी तालाबपहुंचा,  जहॉं महिला मण्डल अध्यक्ष एवं समस्त महिलाओ ने चॉंदी की अंगूठी से गणगौर को पानी पिलाया एवं उसके पश्चात्‌ गणगौर की सवारी का जुलूस पुनः  बाठडियों का चौक पहूंचकर, विसर्जन हुआ।  ब्राह्यण स्वर्णकार महिला मण्डल ने जुलूस मे भाग लेने वाली एवं सहयोग देने वाली सभी महिलाओको धन्यवाद ज्ञापित किया।
अनुराधा भजूड
अध्यक्ष
ब्राह्यण स्वर्णकार महिला मण्डल नागौर

______________________________________________________

Nagour: होली के अगले दिन से शुरू होने वाला गणगौर पूजन इन दिनों परवान पर है। शहर की विभिन्न गली- मोहल्लों में सुबह व शाम को गणगौर के गीत गूंज रहे हैं। गणगौर पूजन को लेकर बालिकाओं, युवतियों एवं महिलाओं में उत्साह चरम पर है। सुबह जल्दी उठकर गणगौर पूजन, दोपहर में दांती एवं शाम को आरती के साथ ही गणगौर के गीत गाती हैं। शहर की गलियों से गौर- गौर गोमती ईश्वर पूजे पार्वती, कालो भाटो कड़कडिय़ो दूर सूं दिखे गवरां बाई रो सासरो अठे सू दिखे सहित अनेक गीत गा रही हैं। वहीं गणगौर को पानी पिलाने की रस्म में भी उत्साह से भाग ले रही है।

रविवार को शहर के बाठडिय़ों का चौक, हाथी चौक, काठडिय़ों का चौक, चिंडकावाडी, दरावाडी भूरावाडी सहित अनेक गली मोहल्लों की महिलाएं एवं युवतियां गणगौर को पानी पिलाने गाजे- बाजे के साथ शहर की विभिन्न गली मोहल्लों से गिन्नाणी तालाब पहुंची। जहां गणगौर को पानी पिलाने की रस्म के दौरान महिलाओं ने गणगौर के गीत भी गाए। रविवार को दोपहर से लेकर शाम गहराने तक गिन्नाणी तालाब में महिलाओं का मेला लगा रहा। एक के बाद एक मोहल्ले की औरतें झुण्ड के रूप में तालाब पर पहुंची। इस कारण दिनभर रेमलपेल नजर आई।

वहीं बाठड़ियों का चौक स्थित ब्राह्यण स्वर्णकार पंचायत भवन में श्री ब्राह्यण स्वर्णकार महिला मण्डल नागौर द्वारा गणगौर उत्सव के उपलक्ष्य पर २१ जोड़े गणगौर को गिन्नाणी तालाब नागौर पानी पिलाने ले गए। जिसमें महिला मण्डल की पदाधिकारी, सदस्यों आदि ने काफी सक्रियता से हिस्सेदारी निभाई तथा महिलाओं ने गणगौर के गीत गाए। गणगौर की सवारी के जुलूस मे समाज की लगभग १५० महिलाएं सम्मिलत हुई। ब्राह्यण स्वर्णकार महिला मण्डल अध्यक्ष अनुराधा एवं समस्त महिलाओं ने चांदी की अगूंठी से गणगौर को पानी पिलाया एवं उसके पश्चात् गणगौर की सवारी का जुलूस पुन: बाठड़ियों का चौक पहुंचकर, विसर्जन हुआ।

D.bhaskar

_____________________________________________________

Biyawara-Rajgarh-M.P.

महिलाओं ने गणगौर पर्व को उत्साह के साथ मनाया। इसमें शहर के प्रमुख मार्गों से सजी धजी महिलाओं ने रथ में गणगौर का विशाल चल समारोह निकाला।

बुधवार शाम को महिलाओं ने गणगौर पूजा के मौके पर बिहारीजी मंदिर से विशाल शोभा यात्रा निकाली। शहर में पहली बार निकाली गई इस शोभायात्रा की खास बात यह रही कि इसमें गणगौर व ईसरजी की प्रतिमा को एक रथ में विराजित किया गया। इनके साथ दो बालिकाएं भी दूल्हा दुल्हन के भेष में बैठाई गई।

यात्रा में मेड़तवाल, माहेश्वरी, स्वर्णकार ब्राह्मण सहित अन्य समाज की सुहागिन महिलाएं व युवतियां शामिल हुईं। शोभायात्रा बैंडबाजों की धुन पर यह यात्रा शहर के प्रमुख मार्ग होते हुए इंदौर नाका गायत्री मंदिर पर पहुंची। यहां अनिता सोनी, मनोरमा बाई, बसंती बाई, पूजा आदि महिलाओं ने भाई व पति की लंबी आयु की कामना के साथ गणगौर व ईसरजी की पूजा की। इधर अग्रवाल समाज की महिलाओं की निकाली शोभा यात्रा भंवरगंज स्थित रामलला मंदिर पहुंची। यहां देर तक सजी धजी महिलाओं का पूजा का दौर जारी रहा।

D. bhaskar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *