श्री ब्राह्मण स्वर्णकार युवा संस्थान (रजि.) जोधपुर द्वारा मेद्यावी विद्यार्थियों का सम्मान.

जोधपुर समाज के लिये १४ अगस्त कि शाम एक यादगार शाम थी और कार्यक्रम था युवा संस्थान द्वारा आयोजित समाज के मेद्यावी विद्यार्थियों को प्रोत्साहन देने के लिये शिक्षा संबंधी पुरस्कार वितरण समारोह। जिस समारोह का शुभारंभ समाज के तपस्वी संत शिरोमणी श्री चैनरामजी महाराज के कर कमलों द्वारा हो तो वो कार्यक्रम अपने आप ही एक यादगार एवं ऐतिहासिक बन जाता हैं।
कार्यक्रम का उद्‌धाटन करने जैसे ही संत श्री चैनराम जी महाराज न्याति भवन परिसर में पहुंचे तो उनका स्वागत पुष्प वर्षा कर किया गया। कार्यक्रम का विधिवत उद्‌धाटन संत श्री चैनरामजी महाराज ने दीप प्रज्जवलित करके किया तत्पद्गचात्‌ युवा संस्थान के अध्यक्ष द्वारा महाराज का मार्ल्यापण कर एवं सॉल औढाकर, प्रतीक चिन्ह भेंट कर अन्य आमंत्रित अतिथियों का स्वागत कार्यक्रम कि शुरुआत की गई जिसमें कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहें जोधपुर समाज के अध्यक्ष श्री सम्पतराजजी हेडाऊ, मुखय अतिथी कालुरामजी बाड़मेरा तथा विशिष्ट अतिथियों में अखिल भारतीय उपाघ्यक्ष श्रीमति मनीषाजी आर्य, डॉ हंशाजी बाडमेरा, श्री रामस्वरूपजी बाडमेरा एवं श्री रामराजजी कट्‌टा का मार्ल्यापण कर स्मृति चिन्ह भेंट कर स्वागत किया गया।

अतिथियों के स्वागत सत्कार के पद्गचात्‌ आखिर वो समय आ ही गया जिसका वहां उपस्थित सभी होनहार विद्यार्थीयों एवं सभी समाज बंधुओं को ब्रेसब्री से इन्तजार था। नन्हे मुन्ने बच्चें सज-धजकर अपने परिजनों के साथ निर्धारित समय से पहले ही न्याति भवन में पहुंच गये थें। सभी के चेहरों पर पुरस्कार लेने की खुशी थी और होगी भी क्यों नही आखिर उनको उनकी मेहनत का प्रतिफल जो मिलने जा रहा था। दुल्हन जैसे सज्जे न्याति भवन मेले जैसा माहोल था। सुव्यवस्थित मंच पर आमंत्रित अतिथिगण  अपनी पुर्ण गरिमा के साथ विराजमान थें। न्याति भवन में लगे जोधपुर स्वर्णकार समाज की सभी संस्थाओं के बैनर इस बात की गवाही दे रहे थें कि वो सभी संस्था इस पवित्र कार्य के लिये युवा संस्थान के साथ खड़ी हैं।पुरा न्याति भवन परिसर साज-सज्जा व शानदार रोशनी के साथ जगमगा रहा था।

जैसा कि अक्सर ऐसे माहौल में होता है कि एक साथ इक्टठा हुए हजारों बच्चों को सम्भालना भारी पड़ता हैं परन्तु युवा संस्थान के निष्ठावान सदस्यगण शान्ति व विन्रमता के साथ नन्हे मुन्ने बच्चों व उनके साथ आयें परिजनों को व्यवस्थित करने में लगे हुए थें। पुरस्कार प्राप्त करने वाले सभी होनहार अपने – अपने पुरस्कार बडे उत्साह के साथ एक दुसरे को दिखा रहें थें। इसमें कोई दो राय नही है कि युवा संस्थान द्वारा दिये गये आकर्षक पुरस्कारों की चर्चा कार्यक्रम के दौरान ही होने लगी थी।

डॉं गंगश्यामजी हेडाऊ के कुशल निर्देशन में तैयार हुए कार्यक्रम के सभी उद्‌धोषक जिस कु्शलता के साथ कार्यक्रम का संचालन कर रहें थे उससे यह कभी भी नही लग रहा था कि वह पहली बार किसी कार्यक्रम में संचालन कर रहे हैं। मंचासीन सभी अतिथियों ने अपने अपने उद्‌बोधन में संस्थान के कार्य की एवं व्यवस्था की भरपुर सराहना की।

संस्था के सचिव प्रदीप बाडमेरा ने युवा संस्थान के अब तक कराये गये कार्यक्रम कार्यो की जानकारी दी एवं आगामी प्रस्तावित कार्यक्रम के बारे में जानकारी दीं। उपाघ्यक्ष चन्द्र प्रका्श बाडमेरा ने कोषाध्यक्ष की अनुपस्थिति मे कार्यक्रम का अनुमानित लेखा प्रस्तुत किया एवं कार्यक्रम की समाप्ति के पद्गचात्‌ जल्द जल्द अंकेक्षित ब्यौरा प्रस्तुत करने का विश्वास दिलाया। अन्त में संस्थान के अध्यक्ष संजय कट्‌टा ने इस समारोह कि सफलता के लिये इसमें प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से सहयोग करने वालों तथा आमंत्रित अतिथियों एवम्‌ उपस्थित समाज बन्धुओं को धन्यवाद दिया।

पुरस्कार प्राप्त करने वालें विद्यार्थियों की संखया एवं प्रत्येक कक्षा मे सर्वश्रेष्ठ विद्यार्थी की सुची :-

Download (PDF, 243KB)

______________________________________________

कार्यक्रम की व्यवस्था के बारे में एक नजर :

मंच संचालन :- मुखय संचालक – डॉं गंगश्याम हेडाऊ

कार्यक्रम की व्यवस्था के बारे में एक नजर :

मंच संचालन :- मुख्य संचालक – डॉं गंगश्यामजी हेडाऊ

सहायक संचालक – हिमांशी कट्‌टा, पारूल बाड़मेरा, मीनल जसमतिया,

हेमन्त कट्‌टा, निखिल हेडाऊ

मु्ख्य सहयोगी :- श्री रामस्वरूपजी कट्‌टा, श्री सम्पतराजजी हेडाऊ, श्री परमेश्वरजी कट्‌टा

विडियोग्राफी  :- श्री ओमप्रकाशजी कट्‌टा, संगम स्टुडियों, पुलिस लाईन मेन गेट के सामने, रातानाडा

ध्वनि व्यवस्था :- श्री विनोदजी कट्‌टा, बाईजी का तालाब

साज-सज्जा  :- नंदपरी डेकोरेटर्स, मोती चौक

पानी व्यवस्था :- श्री ब्राह्मण स्वर्णकार कैलाश प्याऊ

अन्त में युवा संस्थान द्वारा उन सभी प्रायोजको, सहयोगीयों, विज्ञापनदाताओं, आमंत्रित अतिथियों, सहयोगीयों, समस्त संस्थाओं एवम्‌ व्यवस्था सहयोगीयों को पुनः हदृय से आभार प्रकट करता हैं एवं भविष्य में इसी प्रकार के सहयोग की आशा के साथ धन्यवाद ज्ञापित करता हैं।

________________________________________________________

Account :

Download (PDF, 125KB)

१. कार्यक्रम करवाने के लिये स्वर्णकार सभा द्वारा निःशुल्क न्याति भवन उपलब्ध करवाया गया था।

२. इस कार्यक्रम में विद्यार्थियों को दिये गये पुरस्कार काफी मात्रा मे मुम्बई से खरीदे गये थें, जिसे चन्द्र्प्रकाश बाड़मेरा, विकास महेचा, रमेश कट्‌टा एवं त्रिवेन्द्र मथरिया द्वारा स्वयं के खर्च पर मुम्बई जाकर खरीद कर लाया गया था।  

३. कार्यक्रम मे दिये गये पुरस्कारों की पैकिंग का खर्च श्री धनश्यामजी काला द्वारा दिया गया था।

४. कार्यक्रम की लिस्ट बनाने का कार्य चन्द्र प्रकाश बाडमेरा द्वारा निःशुल्क किया गया था।

५. कार्यक्रम के दौरान विडियोग्राफी की व्यवस्था संगम स्टुडियों, ध्वनि व्यवस्था विनोदजी कट्‌टा, एवं   साज-सज्जा की व्यवस्था नन्दपरी डेकोरेटर्स की ओर से निःशुल्क की गई थी।

६. कार्यक्रम की सुचना समाज बंधुओं के मोबाईल पर श्रीमहेशजी कट्‌टा के द्वारा तीन बार भेजी गयी,  लेकिन उनके द्वारा चार्ज एक बार का ही लिया गया।

७. कार्यक्रम के दौरान पानी की व्यवस्था कैलाश प्याऊ द्वारा निःशुल्क की गई थी।

८. मुम्बई जाकर खरीद कर लायें गये पुरस्कारों से लगभग १५०००रू. की बचत की गई।

९. कार्यकर्ताओं के अल्पाहार का खर्च कार्यक्रताओं के स्वयं के द्वारा किया गया था।

१०. कार्यक्रम के दिन पधारे हुए अतिथियों कार्यकर्ताओं व अन्य उपस्थित बंधुओं के लिये खाने की व्यवस्था श्री लालचन्दजी बाडमेरा द्वारा की गई थी।

प्रत्येक वित्तीय वर्ष की समाप्ति पर युवा संस्थान के प्राप्ति व भुगतान खाता एवं स्थिति विवरण की  रिर्पोट अंकेक्षित करवायी जाती हैं, इसलिये इस कार्यक्रम के प्राप्ति एवं भुमतान खाते को अभी  अंकेक्षित नही करवा कर वित्तीय वर्ष की समाप्ति पर अंकेक्षित करवाया जायेंगा।

युवा संस्थान आगामी कार्यक्रमों में भी आपके द्वारा इसी प्रकार के सहयोग की अपेक्षा रखता हैं।

धन्यवाद।

(संजय कट्‌टा)                  (विकास महेचा)                  (प्रदीप बाडमेरा)      

अध्यक्ष                                  कोषाध्यक्ष                         सचिव

श्री ब्राह्मण स्वर्णकार युवा संस्थान (रजि.) जोधपुर

Shri Brahmin Swarnkar Yuva Sansthan (Ragisterd) Jodhpur
Orgnigation by education Related Prize Distribution Program -2010 in 14 august 2010,  Venus swarnkar Nyati Bhawan Jodhpur.
More Information Please Contact Program Incharge & Vice President of Yuva Sansthan Chandra Prakash Soni
Contact No. 94144-76008,9314989800
cplcsoni@yahoo.co.in
[ source : By mail from Mr. Chandraprakash soni to swarnjagriti]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *